Punctuation Mark (विराम चिह्न)


Punctuation is very important in Hindi, we often use the punctuation marks at the time of writing. It indicates the type of sentences and the places.
हिंदी में विराम चिह्न बहुत महत्वपूर्ण है विराम चिह्न का उपयोग लिखनेके समय उपयोग किया जाता है यह वाक्य के प्रकार और उसके स्थान के बारे मे भी जानकारी देता हैं। विराम चिह्न वाक्य के अनुसार बदलते है।
दुसरे शब्दो मे यह कह सकते है कि भाषा में स्थान -विशेष पर रुकने अथवा उतार -चढ़ाव आदि दिखाने के लिए जिन चिन्हों का प्रयोग किया जाता है उन्हें ही ' विराम चिन्ह ' कहते है !

Note: Punctuation helps us to determine the structure of sentences as well as intonation during reading.
(विराम चिह्न पढ़ने के दौरान वाक्यों की संरचना के रूप में अच्छी तरह से और निर्धारित करने के लिए हमें मदद करता है ।)

In Hindi, Grammar Punctuation marks are divided into nine types:
(हिंदी व्याकरण मे विराम चिह्न को नौ प्रकार में विभाजित है।)

1) पूर्ण विराम (|) (Full Stop)
2) अल्प विराम (,) (Comma)
3) अर्ध विराम (;) (Semicolon)
4) प्रशनवाचक चिन्ह (?) (Question Mark)
5) विस्मयादिवाचक चिन्ह (!) (Exclamation Mark)
6) निर्देशक (—) (Dash)
7) योजक (‐) (Hyphen)
8) उद्धरण चिन्ह (" ") (Quotation Mark)
9) विवरण चिन्ह (:-) (Sign of Following)



1) पूर्ण विराम (|) (Full Stop)

In Hindi, Full stop comes after the end of a sentence. In English, we use full stop/period (.) but in Hindi it is represented by a vertical line.
पूर्ण विराम का उपयोग वाक्य के अंत मे करते है, उसे पूर्ण विराम कहते है।

Example:
मैं बाजार जा रहा हूं। (I am going to market)

2) अल्प विराम (,) (Comma)

Comma is used between two sentences that contain two similar clauses or a compound sentence. The same symbol used in English.
अल्प विराम का उपयोग दो वाक्य खंडो के बीच किया जाता है उसे अल्प विराम कहते है।

Examples:
राम, नीता, नेहा और रोहन बाजार जा रहे हैं. (Ram, Neeta, Neha and Rohan are going to the market)
मैं निम्न फल आदेश दिया हूँ, अंगूर, आम, नारंगी। (I ordered following fruits, grapes, mango, orange.)

3) अर्ध विराम (;) (Semicolon)

Semicolon is used when two sentences such as compound and mixed sentences are of opposite in nature, this mark shows the importance of special sentence.
अर्ध विराम का उपयोग यौगिक और मिश्रित वाक्यों के बीच किया जाता है, यह विराम चिह्न किसी विशेष वाक्य पर जोर देने के बीच में, या मुख्य वाक्य के बाद किया जाता है।

Examples:
आपको ज्यादा खाना बंद करना चाहिए; नही तो वजन बढ जायेगा। (You should stop eating too much; otherwise weight will increase.)
आपको अपने अध्ययन पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए; अन्यथा परीक्षा मे नंबर कम मिलेंगे। (You should focus on your studies; Otherwise In the examination you will score less marks).

4) प्रशनवाचक चिन्ह (?) (Question Mark)

This punctuation mark is used to define a question.
प्रशनवाचक का उपयोग सवाल पूछने के बाद किया जाता है।

Examples:
क्या आप मेरे साथ चलेंगे? (Would you go with me?)
तुम कहॅा जा रहे हो? (Where are you going?)
तुम य़हॉ क्यों आये? (Why you came here?)





Latest Release


How to write a Letter to the Principal (प्रधानाचार्य को पत्र कैसे लिखें)

Write a letter to principal for one week leave: एक सप्ताह के ल...

Official Letter Writing in Hindi (हिन्दी मे आधिकारिक पत्र लेखन)

Hindi beginners are required to write some official letter or non-official letter in Hindi...

Identification of Grammatical Gender (व्याकरणिक लिंग की पहचान)

Common Mistakes with Grammatical Gender:When the new learner starts learning Hindi they ge...

Hindi Story Writing (कहानी लेखन)

In Hindi, story writing is called as Kahani Lekhan. Story writing is based on imagination ...

Common Verbs (सामान्य क्रियायें)

On my quest to learn more than 600 most common words in Hindi, there are numbers of words ...